spot_img
NewsnowदेशSnooping case: भाजपा अध्यक्ष समेत अन्य ने आप मुख्यालय के बाहर किया...

Snooping case: भाजपा अध्यक्ष समेत अन्य ने आप मुख्यालय के बाहर किया प्रदर्शन

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा, सांसद प्रवेश वर्मा, मनोज तिवारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल भारी सुरक्षा के बीच बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई के सदस्य Snooping case में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग को लेकर सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) मुख्यालय के बाहर भारी विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Liquor scam: ईडी ने अरविंद केजरीवाल के निजी सहायक से की पूछताछ

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा, सांसद प्रवेश वर्मा, मनोज तिवारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल भारी सुरक्षा के बीच बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

BJP president's protest outside in Snooping case
Snooping case में भाजपा अध्यक्ष ने डिप्टी सीएम से मांगा इस्तीफा

भाजपा कार्यकर्ताओं को आप मुख्यालय पहुंचने से रोकने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। डीडीयू मार्ग पर भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, जहां कार्यालय स्थित है, जहां बैरिकेड्स की दो लाइनें हैं। भाजपा के प्रदर्शनकारी इस बात पर अड़े हैं कि वे मार्च करेंगे और आप मुख्यालय तक पहुंचने की कोशिश करेंगे।

Snooping case में CBI को सिसोदिया से पूछताछ के लिए केंद्र से मिली अनुमति

केंद्र द्वारा सीबीआई को अभियोजन की मंजूरी देकर सिसोदिया के खिलाफ एक नया मामला दर्ज करने का रास्ता साफ होने के बाद भाजपा की प्रतिक्रिया आई है।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बुधवार को दिल्ली के उपराज्यपाल कार्यालय को बताया कि उसने सिसोदिया पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 17 के तहत मुकदमा चलाने की मंजूरी दे दी है। आप ने सिसोदिया के खिलाफ आरोपों को “पूरी तरह से फर्जी” बताया है।

BJP president's protest outside in Snooping case
Snooping case: भाजपा अध्यक्ष समेत अन्य ने आप मुख्यालय के बाहर किया प्रदर्शन

सीबीआई ने कहा था कि उन्होंने अपनी प्रारंभिक जांच के दौरान पाया कि दिल्ली सरकार द्वारा भ्रष्टाचार की जांच के लिए स्थापित फीडबैक यूनिट (एफबीयू) ने कथित तौर पर “राजनीतिक खुफिया जानकारी” एकत्र की थी। एजेंसी ने सिफारिश की थी कि सिसोदिया के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाए।

यह भी पढ़ें: Snooping case में मनीष सिसोदिया से पूछताछ कर सकती है सीबीआई, केंद्र ने दी हरी झंडी

मनीष सिसोदिया ने अपने खिलाफ जारी अभियोजन मंजूरी को “कायरतापूर्ण” करार दिया है और कहा है कि “प्रतिद्वंदियों के खिलाफ झूठे मामले बनाना एक कमजोर व्यक्ति की निशानी है”।