शुक्रवार, अक्टूबर 22, 2021
Newsnowप्रमुख ख़बरेंCorona Vaccination: कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से होगा शुरू

Corona Vaccination: कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से होगा शुरू

सरकार की ओर से कहा गया कि कोरोना वायरस की वैक्सीन (Corona Vaccination) सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन पर काम करने वाले कर्मचारियों की दी जाएगी।

New Delhi : भारत सरकार ने कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण (Corona Vaccination) अभियान को 16 जनवरी से शुरू करने का फैसला लिया है। यह जानकारी केंद्र सरकार की ओर से दी गई है। सरकार ने कहा कि पीएम मोदी (PM Modi) ने कोरोना वायरस (Corona Virus) की स्थिति की समीक्षा और सरकार 16 जनवरी से कोरोना के खिलाफ टीकाकरण (Corona Vaccination) अभियान शुरू करने जा रही है।

कोरोना वैक्सीन के लिए Co-WIN ऐप पर कराना होगा रजिस्ट्रेशन

Corona Vaccine पहले स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन कर्मचारियों की दी जाएगी।

सरकार की ओर से कहा गया कि कोरोना वायरस की वैक्सीन (Corona Vaccination) सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन पर काम करने वाले कर्मचारियों की दी जाएगी। सरकार ने बताया कि करीब 3 करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहले टीका लगाना सरकार की प्राथमिकता है। केंद्र सरकार की ओर से कहा गया कि स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के बाद लगभग 27 करोड़ लोगों को वैक्सीन (Corona Vaccination) दी जाएगी, जिनमें 50 साल की उम्र से अधिक के लोग और स्वास्थ्य संबंधी समस्या वाले 50 साल से कम उम्र के लोग शामिल होंगे।

टीके के लिए होगा एक डिजिटल प्लेटफार्म

सरकार ने बताया कि एक डिजिटल टीका आपूर्ति प्रबंधन प्रणाली टीके के भंडार, भंडारण तापमान, लाभार्थियों के संबंध में जानकारी देगी। सरकार ने कहा कि डिजिटल प्लेटफार्म स्वत: सत्र आवंटित करने, सत्यापन और टीकाकरण (Corona Vaccination) के बाद व्यक्तियों को प्रमाणपत्र प्रदान करने में मदद करेगा। 

स्वास्थ्य मंत्री का बयान

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शनिवार को कहा महीनों तक सहयोगपूर्ण मंथन और टीका वितरण विशेषज्ञता पर काम करने के बाद भारत ने कोविड-19 टीकाकरण (Corona Vaccination) प्रक्रिया को सुगठित किया है। यह बात उन्होंने 16वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2021 को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा, ‘‘भारत ने अंतत: कोविड-19 टीका प्रदायगी के लिए अत्याधुनिक डिजिटल मंच ‘कोविन’ बना लिया है। टीकाकरण के बाद किसी प्रतिकूल प्रभाव की संभावना जैसी स्थिति में टीकों की सुरक्षा में विश्वास कायम रखना हमारी रणनीति का महत्वपूर्ण हिस्सा है।’’