Newsnowसंस्कृतिEkadashi 2022 तिथियां, समय, महत्व और अनुष्ठान

Ekadashi 2022 तिथियां, समय, महत्व और अनुष्ठान

Ekadashi के दिन, भक्त सख्त उपवास रखते हैं और अगले दिन सूर्योदय के बाद ही अपना उपवास तोड़ते हैं। भक्त बिना पानी के या केवल पानी या केवल फलों के साथ व्रत का पालन करना चुन सकते हैं।

जो लोग भगवान विष्णु की पूजा करना चाहते हैं उनके लिए Ekadashi 2022 की तिथि और समय बहुत महत्वपूर्ण है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, एकादशी दो चंद्र चरणों में से प्रत्येक का ग्यारहवां चंद्र दिन है – शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष। इसलिए, एक हिंदू कैलेंडर माह में दो एकादशी दिन होते हैं। एकादशी के दिन अधिकांश हिंदू भक्त भगवान विष्णु की पूजा करते हैं।

Ekadashi के दिन, भक्त सख्त उपवास रखते हैं और अगले दिन सूर्योदय के बाद ही अपना उपवास तोड़ते हैं। भक्त बिना पानी के या केवल पानी या केवल फलों के साथ व्रत का पालन करना चुन सकते हैं। हिंदू धर्म के अनुसार, जो लोग Ekadashi का व्रत करते हैं, उन्हें अशुभ ग्रहों के प्रभाव से छुटकारा, सुख का आशीर्वाद और भगवान के बारे में सोचने और मोक्ष प्राप्त करने के लिए मन की सही शांति प्राप्त करने वाला माना जाता है।

Ekadashi व्रत मंत्र

विष्णु मंत्र: Om नमो भगवते वासुदेवाय:

कृष्ण महा-मंत्र: हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे, हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे

Ekadashi 2022 की तारीखें और समय उन लोगों के संदर्भ के लिए नीचे दिए गए हैं जो एकादशी के दिन व्रत (उपवास) रखना चाहते हैं।

Ekadashi 2022 उपवास तिथियां और समय

EkadashiDateTimings
पौष पुत्रदा एकादशी
वैकुंठ एकादशी
13 जनवरी 2022, गुरुवारप्रारंभ – 04:49 अपराह्न, 12 जनवरी
समाप्त – 07:32 अपराह्न, जनवरी 13
षटतिला एकादशी28 जनवरी, 2022, शुक्रवारप्रारंभ – 02:16 पूर्वाह्न, 28 जनवरी
समाप्त – 11:35 अपराह्न, 28 जनवरी
जया एकादशी12 फरवरी 2022, शनिवारप्रारंभ – 01:52 अपराह्न, फरवरी 11
समाप्त – 04:27 अपराह्न, फ़रवरी 12
विजया एकादशी26 फरवरी 2022, शनिवारप्रारंभ – 10:39 पूर्वाह्न, 26 फरवरी
समाप्त – 08:12 पूर्वाह्न, फरवरी 27
गौना विजया एकादशी
वैष्णव विजया एकादशी
27 फरवरी 2022, रविवारप्रारंभ – 10:39 पूर्वाह्न, 26 फरवरी
समाप्त – 08:12 पूर्वाह्न, फरवरी 27
आमलकी एकादशी14 मार्च 2022, सोमवारप्रारंभ – 10:21 पूर्वाह्न, मार्च 13
समाप्त – 12:05 अपराह्न, मार्च 14
पापमोचनी एकादशी28 मार्च 2022, सोमवारप्रारंभ – 06:04 अपराह्न, मार्च 27
समाप्त – 04:15 अपराह्न, 28 मार्च
कामदा एकादशी12 अप्रैल 2022, मंगलवारप्रारंभ – 04:30 पूर्वाह्न, 12 अप्रैल
समाप्त – 05:02 पूर्वाह्न, अप्रैल 13
वैष्णव कामदा एकादशी13 अप्रैल 2022, बुधवारप्रारंभ – 04:30 पूर्वाह्न, 12 अप्रैल
समाप्त – 05:02 पूर्वाह्न, अप्रैल 13
वरुथिनी एकादशी26 अप्रैल 2022, मंगलवारप्रारंभ – 01:37 पूर्वाह्न, 26 अप्रैल
समाप्त – 12:47 पूर्वाह्न, 27 अप्रैल
मोहिनी एकादशीमई 12, 2022, गुरुवारप्रारंभ – 07:31 अपराह्न, 11 मई
समाप्त – 06:51 अपराह्न, 12 मई
अपरा एकादशी26 मई 2022, गुरुवारप्रारंभ – 10:32 पूर्वाह्न, 25 मई
समाप्त – 10:54 पूर्वाह्न, 26 मई
निर्जला एकादशी10 जून 2022, शुक्रवारप्रारंभ – 07:25 पूर्वाह्न, 10 जून
समाप्त – 05:45 पूर्वाह्न, जून 11
गौना निर्जला एकादशी
वैष्णव निर्जला एकादशी
11 जून 2022, शनिवारप्रारंभ – 07:25 पूर्वाह्न, 10 जून
समाप्त – 05:45 पूर्वाह्न, जून 11
योगिनी एकादशी24 जून 2022, शुक्रवारप्रारंभ – 09:41 अपराह्न, 23 जून
समाप्त – 11:12 अपराह्न, जून 24
देवशयनी एकादशी10 जुलाई 2022, रविवारप्रारंभ – 04:39 अपराह्न, 09 जुलाई
समाप्त – 02:13 अपराह्न, 10 जुलाई
कामिका एकादशी24 जुलाई 2022, रविवारप्रारंभ – 11:27 पूर्वाह्न, 23 जुलाई
समाप्त – 01:45 अपराह्न, 24 जुलाई
श्रावण पुत्रदा एकादशी8 अगस्त 2022, सोमवारप्रारंभ – 11:50 अपराह्न, 07 अगस्त
समाप्त – 09:00 अपराह्न, अगस्त 08
आजा एकादशी23 अगस्त 2022, मंगलवारप्रारंभ – 03:35 पूर्वाह्न, 22 अगस्त
समाप्त – 06:06 पूर्वाह्न, अगस्त 23
पार्श्व एकादशी6 सितंबर 2022, मंगलवारप्रारंभ – 05:54 पूर्वाह्न, 06 सितंबर
समाप्त – 03:04 पूर्वाह्न, सितम्बर 07
वैष्णव पार्श्व एकादशीसितम्बर 7, 2022, बुधवारप्रारंभ – 05:54 पूर्वाह्न, 06 सितंबर
समाप्त – 03:04 पूर्वाह्न, सितम्बर 07
इंदिरा एकादशी21 सितंबर, 2022, बुधवारप्रारंभ – 09:26 अपराह्न, 20 सितंबर
समाप्त – 11:34 अपराह्न, 21 सितंबर
पापंकुशा एकादशीअक्टूबर 6, 2022, गुरुवारप्रारंभ – दोपहर 12:00 अपराह्न, 05 अक्टूबर
समाप्त – 09:40 पूर्वाह्न, 06 अक्टूबर
रमा एकादशी21 अक्टूबर 2022, शुक्रवारप्रारंभ – 04:04 अपराह्न, 20 अक्टूबर
समाप्त – 05:22 अपराह्न, 21 अक्टूबर
देवउठना एकादशीनवंबर 4, 2022, शुक्रवारप्रारंभ- 07:30 अपराह्न, 03 नवंबर
समाप्त – 06:08 अपराह्न, नवंबर 04
उत्पन्ना एकादशीनवंबर 20, 2022, रविवारप्रारंभ – 10:29 पूर्वाह्न, नवंबर 19
समाप्त – 10:41 पूर्वाह्न, नवंबर 20
मोक्षदा एकादशी3 दिसंबर 2022, शनिवारप्रारंभ – 05:39 पूर्वाह्न, 03 दिसंबर
समाप्त – 05:34 पूर्वाह्न, 04 दिसंबर
वैष्णव मोक्षदा एकादशी
गुरुवायुर एकादशी
4 दिसंबर 2022, रविवारप्रारंभ – 05:39 पूर्वाह्न, 03 दिसंबर
समाप्त – 05:34 पूर्वाह्न, 04 दिसंबर
सफला एकादशी19 दिसंबर, 2022, सोमवारप्रारंभ – 03:32 पूर्वाह्न, 19 दिसंबर
समाप्त – 02:32 पूर्वाह्न, 20 दिसंबर