NewsnowदेशHamirpur में दोनों नदियों यमुना और बेतवा ने लिया विकराल रूप

Hamirpur में दोनों नदियों यमुना और बेतवा ने लिया विकराल रूप

Hamirpur में बेतवा नदी खतरे के निशान से ऊपर, बांधो से नदियों में पानी छोड़े जाने का सिलसिला लगातार जारी, पिछले दो दिनों में माताटीला बांध से बेतवा नदी में छोड़ा गया 5.5 लाख क्यूसेक पानी।

हमीरपुर/उ.प्र: Hamirpur में यमुना बेतवा दोनों नदियों ने लिया विकराल रूप, उचाई के इलाकों में लगातार हो रही बारिश से डैम हुए फुल, बांधो से नदियों में पानी छोड़े जाने का सिलसिला लगातार जारी, पिछले दो दिनों में माताटीला बांध से बेतवा नदी में छोड़ा गया 5.5 लाख क्यूसेक पानी। 

धौलपुर बैराज से यमुना नदी में 11.50 लाख क्यूसेक पानी किया गया पास, जनपद हमीरपुर में यमुना बेतवा दोनों नदियों ने लिया विकराल रूप, प्रशासन ने यमुना व बेतवा नदी से सटे इलाको व जनपद मुख्यालय से सटे गांवों पर जताई बाढ़ से प्रभावित होने की संभावना। 

प्रशासन के मुताबिक इस बाढ़ में 90 गांवों के प्रभावित होने की आशंका, दोनों नदियों खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। 

Hamirpur में बेतवा नदी खतरे के निशान से ऊपर 

In Hamirpur Yamuna and Betwa took a formidable form
Hamirpur में दोनों नदियों यमुना और बेतवा ने लिया विकराल रूप

बेतवा नदी खतरे के निशान से लगभग 2 मीटर ऊपर तो वहीं यमुना नदी खतरे के निशान से करीब 3.5 मीटर ऊपर बह रही है।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के Hamirpur में फिरौती के लिए अपहरण, फिर हत्या   

बेतवा नदी का पानी पारा, कंडौर, मनकी, बिलौटा आदि गांवों के निचले हिस्से में पानी पहुंच गया है। प्रशासन के अनुसार चिकासी, हरदुआ, बड़ेरा, विरहट, इस्लामपुर, चंडौत, रिरूवा बुजुर्ग, जलालपुर, भेड़ी डांडा, आदि गांवों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है।

In Hamirpur Yamuna and Betwa took a formidable form
Hamirpur में दोनों नदियों यमुना और बेतवा ने लिया विकराल रूप

प्रशासन ने इन गांवों में एलर्ट जारी कर दिया है। जलालपुर गांव स्थित माता महेश्वरी मंदिर पानी में डूब गया है।

In Hamirpur Yamuna and Betwa took a formidable form
Hamirpur में दोनों नदियों यमुना और बेतवा ने लिया विकराल रूप

तटीय इलाकों के बाढ़ पीड़ितों ने सुरक्षित स्थानों की ओर शुरू किया पलायन। वहीं प्रशासन ने बाढ़ से प्रभावित होने वाले 90 गांवों को तीन जोन में बांटा, रेड, येल्लो व ग्रीन। 

प्रशासन का दावा बाढ़ जैसे हालातों से निपटने के लिए उनकी तैयारी पूरी है।

हमीरपुर से धर्मेन्द्र महाजन की रिपोर्ट