सोमवार, अक्टूबर 25, 2021
Newsnowक्राइमHathras case: CBI की टीम तीसरी बार घटनास्थल पहुंची, फॉरेंसिक टीम है...

Hathras case: CBI की टीम तीसरी बार घटनास्थल पहुंची, फॉरेंसिक टीम है साथ

ये तीसरा मौका है, जब सीबीआई (CBI) टीम, फॉरेंसिक टीम (Forensic Team) के साथ घटनास्थल पर पहुंची है.

हाथरस: उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड (Hathras) में जुटी सीबीआई (CBI) से इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) की लखनऊ बेंच ने पूछ लिया है कि आखिर जांच कब पूरी होगी? साथ ही हाईकोर्ट ने सीबीआई से 25 नवंबर को मामले में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है। 

हाईकोर्ट के निर्देश के एक दिन बाद ही शुक्रवार को सीबीआई (CBI) टीम एक बार फिर घटनास्थल पर पहुंची. बता दें ये तीसरा मौका है, जब सीबीआई टीम फॉरेंसिक टीम (Forensic Team) के साथ घटनास्थल पर पहुंची है।

मां को याद कर रो रही बच्ची की पिता ने ही गुस्से में गला दबाकर कर दी हत्या

रोती पीड़िता की मां को चुप कराती दिखी सीबीआई अफसर

मौके पर किसी भी बाहरी व्यक्ति के पहुंचने पर रोक है और सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ (CRPF) की तैनाती की गई है। यहां घटनास्थल पर सीबीआई टीम एक बार फिर क्राइम सीन रिक्रिएट कर रही है, यही नहीं घटनास्थल पर ही टीम पीड़िता के परिवार सभी अलग-अलग पूछताछ करती दिखाई दी। 

सीबीआई (CBI) की अधिकारी सीमा पाहूजा पूछताछ कर रही हैं। इस दौरान पीड़िता की मां को दूर बिठाकर उसके भाई से पूछताछ की गई। वहीं सीबीआई के सवालों का सामना करने के बाद खेत की मेढ़ पर बैठकर मां रोती दिखाई दी। बिलखकर रोती मां को सीबीआई की महिला अधिकारी चुप कराती दिखीं।

Bareilly: 4 साल के मासूम की रेप और हत्या के आरोपी युवक की लोगों ने पीट-पीटकर हत्या की

भाई ने किया था खुलासा- CBI ने पूछा- तुमने ही अपनी बहन को मारा है?

बता दें हाल ही में पीड़िता के भाई ने सीबीआई की पूछताछ को लेकर खुलासा किया था कि टीम ने उससे पूछा कि तुमने ही अपनी बहन को मारा है? इस पर भाई ने जवाब दिया कि मैं अपनी बहन को मारता तो उसे लेकर थाने क्यों जाता? पीड़िता के भाई ने बताया अगर हमें उसे मारना होता तो घर पर ही मार देते। 

बुधवार को मानवाधिकार संगठन पीपुल्स यूनियन फ़ॉर सिविल लिबर्टी के प्रतिनिधिमंडल से बातचीत में पीड़िता के भाई ने ये खुलासा किया। मानवाधिकार संगठन के लोगों ने सीबीआई की पूछताछ को लेकर परिवार के बातचीत की. परिवार के लोगों ने सीबीआई द्वारा पूछे गए सवालों को लेकर विरोध जाहिर किया था।