शुक्रवार, जनवरी 28, 2022
NewsnowसेहतTil Ki Barfi: गुड़ और तिल के मिश्रण के साथ बनाये, जानें...

Til Ki Barfi: गुड़ और तिल के मिश्रण के साथ बनाये, जानें विधि

Til Ki Barfi भारत में ना सिर्फ त्योंहार पर बनाया जाने वाला व्यंजन है बल्कि यह सर्दी का भी ख़ास व्यंजन है।

एक झटपट और आसान रेसिपी, तिल की बर्फी सर्दियों में जरूर खानी चाहिए। Til Ki Barfi गुड़ और तिल के मिश्रण के साथ समृद्ध और मलाईदार खोये को मिलाकर, हीरे के आकार में काटकर बनाई जाती है। आप इस खास सर्दियों की विशेष बर्फी के साथ अपने मेहमानों को प्रभावित करें।

Til Ki Barfi की सामग्री:-

1/2 कप तिल

1 बड़ा चम्मच घी (मक्खन)

1/4 कप खोया

1/2 कप गुड़

1/2 कप पानी

बादाम – 10-12 (बारीक कटे हुए)

यह भी पढ़ें: Til Poli: महाराष्ट्रीयन व्यंजन, जाने बनाने की विधि

Til Ki Barfi बनाने की विधि

तिल को तवे पर तब तक भूनें जब तक कि वे फूटने न लगें और रंग सुनहरा न हो।

भुने हुए तिल को एक खाली बर्तन में निकलकर ठंडा होने के लिए रख दें।

गैस पर एक पैन रखें, उस पैन में घी और खोया डालें और एक समान स्थिरता पर भूनें।

एक दूसरे पैन में, गुड़ और पानी को एक साथ धीमी आंच पर गर्म करें, गुड़ के घुलने तक कई बार हिलाएं।

सुनिश्चित करें कि गुड़ घुलने से पहले इसे उबलने न दें। गुड़ घुलने के बाद चाशनी को तेज आंच पर गाढ़ा होने तक उबलने दें।

चाशनी जब तक बनकर तैयार हो, तब तक तिल पीस लीजिए, तिल पीसने के लिए आप मिक्सर जार का इस्तेमाल कर सकते है। ध्यान रखे कि तिल बारीक़ न पीसे इन्हें हल्का दरदरा ही पीसे।

चाशनी जांच करने के लिए, ठंडे पानी में चाशनी की एक बूँद को गिरा कर देखे अगर चाशनी सॉफ्ट बॉल बन रहे हैं तो आप की चाशनी तैयार हैं।

यह भी पढ़ें: Til ki Chikki: पौष्टिक गुणों से भरपूर, बहुत ही सरल रेसिपी

चाशनी तैयार होने के बाद पिसे हुए तिलों को गुड़ की चाशनी में डाल दीजिए इन्हें धीमी गैस पर मिक्स करते हुए तब तक पकाइए जब तक कि ये अच्छे से आपस में मिल न जाएं।

ठन्डे हुए खोये के मिश्रण में तुरंत ही चाशनी को मिलाएँ। जैसे ही आप इसे मिलाते हैं, यह सेट होना शुरू हो जाएगा, इसलिए जितनी जल्दी हो सके इसे मिश्रण करना आवश्यक है।

मिश्रण को घी लगी प्लेट में निकालिये, समतल पर थपथपाइये और ठंडा होने के लिये रख दीजिये। फिर इसे धारदार चाकू की सहायता से मनचाहे आकार के टुकड़ों में काट लें। बर्फी को पूरी तरह ठंडा होने के बाद ही टुकड़ो को अलग करें।

अब बादाम के कटे हुऐ टुकड़ो को बर्फी के ऊपर लगाकर हल्के हाथो से दबा दें।

Til Ki Barfi बनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें

तिल को ज्यादा मत भूनें वरना स्वाद में कड़वाहट आ जाती है।

चाशनी बनाते समय ज्यादा पानी का इस्तेमाल न करें, पानी नापकर ही डालें ।

Til Ki Barfi बनने के लिए आप गुड़ की जगह चीनी का भी इस्तेमाल कर सकते है।

गैस धीमी और मीडियम आंच पर ही रखें। केवल चाशनी को गाढ़ा करने के लिए ही तेज आंच का इस्तेमाल करें।

घी बर्फी का स्वाद बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया गया है आप चाहें तो बिना घी के भी इसे तिल और गुड़ के साथ बना सकते हैं।

आप अपनी इच्छानुसार बर्फी के ऊपर किसी भी सूखे मावे के मिश्रण का उपयोग कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: असम का मशहूर Til Pitha: जानें बनाने की विधि

पोषण संबंधी जानकारी

कैलोरी : 2843 किलो कैलोरी

कार्बोहाइड्रेट: 223.5 ग्राम

प्रोटीन : 81.9 ग्राम

वसा : 180 ग्राम

विशेष सूचना:- Til Ki Barfi को 8-10 दिनों या उससे अधिक समय तक एक एयरटाइट कंटेनर में स्टोर किया जा सकता है।