NewsnowदेशMoradabad के 'जिम्मेदारों' को नहीं आई 'शर्म', कलमकारों ने निभाई जिम्मेदारी

Moradabad के ‘जिम्मेदारों’ को नहीं आई ‘शर्म’, कलमकारों ने निभाई जिम्मेदारी

Moradabad के सरकारी अधिकारियों की लापरवाही, मरे हुए कुत्ते को 2 कलमकारों ने उठा कर विधि विधान के अनुसार रामघाट के पास सुपुर्द ए खाक किया।

Moradabad/यूपी: यह एक ऐसा मामला है जहां कलमकारों ने जिम्मेदारों की जिम्मेदारी निभाई जो हमेशा समस्या के समाधान को और पीड़ित को न्याय दिलाने के लिए तत्पर रहते हैं। जी हां, यह मामला मुरादाबाद के महानगर सिविल लाइन में स्थित अंबेडकर पार्क की है। जहाँ सरकारी अधिकारियों की लापरवाही को साफ़ देख जा सकता है।

यह भी पढ़ें: Moradabad में रामगंगा नदी के तट पर विशेष सफाई अभियान

Moradabad के सरकारी अधिकारियों की लापरवाही

यह मामला Moradabad के निरीक्षण भवन पीडब्ल्यूडी ऑफिस और बिजली विभाग सिंचाई विभाग के दफ्तर और कलमकारों से जुड़ा है अंबेडकर पार्क के छोटे एंट्री गेट के ठीक सामने पीडब्ल्यूडी विभाग के आला अधिकारी का सरकारी निवास भी है और इसी के नाले को कवर करते हुए पीडब्ल्यूडी विभाग ने फुटपाथ से पहले तक बाउंड्री वाल कर दी और एक तरफ बाकायदा झूले लगा दी है तो दूसरी तरफ इसके सामने के बाउंड्री वॉल इलाके में एक मरा हुआ कुत्ता पड़ा हुआ था जिस में से बहुत ही बदबू आ रही थी। 

Moradabad's writer is performing government duty
Moradabad के 'जिम्मेदारों' को नहीं आई 'शर्म', कलमकारों ने निभाई जिम्मेदारी

इससे यह स्पष्ट है कि यह कल या फिर परसों मरा और किसी ने इसे उठाया भी नहीं जबकि मरे हुए कुत्ते के बाहरी साइड में खाने के दो ठेले भी खड़े थे। रविवार को कई लोगों ने इस कुत्ते को उठवाने के लिए जिम्मेदारआन विभाग के आला अधिकारियों को फोन किया। लेकिन किसी भी अधिकारी की तरफ़ से कोई जबाव ना मिलने पर वहाँ खड़े 2 कलमकारों ने इस जिम्मेदारी को निभाया, और मरे हुए कुत्ते को उठा कर विधि विधान के अनुसार रामघाट के पास सुपुर्द ए खाक किया।

Moradabad's writer is performing government duty
Moradabad के 'जिम्मेदारों' को नहीं आई 'शर्म', कलमकारों ने निभाई जिम्मेदारी

इस पूरे मामले की लोगों को जानकारी भी नहीं होती लेकिन एक शख्स ने कलमकारों की इस सेवा भाव को अपने मोबाइल में कैद कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वायरल वीडियो में मरे हुए कुत्ते को उठाने से लेकर सुपुर्द ए खाक करने तक में जो दो चेहरे नजर आ रहे हैं वह पत्रकार सुनील दिवाकर और मनोज कश्यप के हैं। फिलहाल सोशल मीडिया पर दोनों के इस काम की काफी तारीफ हो रही है।

Moradabad से संवाददाता फ़राज़ खान की रिपोर्ट