NewsnowदेशAmethi में संविधान दिवस के अवसर पर विशेष कार्यक्रम 

Amethi में संविधान दिवस के अवसर पर विशेष कार्यक्रम 

संविधान दिवस के अवसर पर अमेठी जिले के सभी सरकारी कार्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थानों में आयोजित हुए विविध कार्यक्रम, दिलाया गया संकल्प। विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी तथा कलेक्ट्रेट में अतिरिक्त मजिस्ट्रेट ने अधिकारियों/कर्मचारियों को दिलाया संकल्प।

Amethi/UP: 26 नवंबर का दिन भारत का एक ऐतिहासिक दिन होता है, इस दिन को हम संविधान दिवस के रूप में मनाते हैं। आज संविधान दिवस के अवसर जनपद के सभी सरकारी कार्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थानों में अनेकानेक कार्यक्रमों का आयोजन व प्रस्तावना का पाठन कराया गया और मौलिक कर्तव्यो की शपथ दिलाई गई। 

Amethi के कलक्ट्रेट सभागार में कार्यक्रम आयोजित किया गया 

Special program in Amethi on Constitution Day
Amethi में संविधान दिवस के अवसर पर विशेष कार्यक्रम 

जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र के निर्देशन में विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी सान्या छाबड़ा एवं कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित कार्यक्रम के दौरान अतिरिक्त मजिस्ट्रेट मो. असलम ने मौजूद अधिकारियों, कर्मचारियों को संविधान की प्रस्तावना का पाठन कराया। 

यह भी पढ़ें: Amethi में प्रेस क्लब के पदाधिकारियों का शपथ ग्रहण आयोजन

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि “हम, भारत के लोग, भारत को एक संपूर्ण प्रभुत्व-संपन्न समाजवादी, पंथ निरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को, सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म और उपासना की स्वतंत्रता, प्रतिष्ठा और अवसर की समता प्राप्त कराने के लिए तथा उन सब में व्यक्ति की गरिमा और राष्ट्र की एकता और अखंडता सुनिश्चित करने वाली बंधुता बढ़ाने के लिए, दृढ़ संकल्प होकर अपनी इस संविधान सभा में आज तारीख, 26 नवंबर 1949 ई0 (मिति मार्गशीर्ष शुक्ला सप्तमी, संवत् दो हजार छह विक्रमी) को एतद्द्वारा इस संविधान को अंगीकृत, अधिनियमित और आत्मार्पित करते हैं”।

यह भी पढ़ें: Amethi में हुआ रोजगार मेले का आयोजन, 237 अभ्यर्थियों का हुआ चयन

Special program in Amethi on Constitution Day
Amethi में संविधान दिवस के अवसर पर विशेष कार्यक्रम 

उन्होंने कहा कि आजादी मिलते ही देश को चलाने के लिए संविधान बनाने की दिशा में काम शुरू कर दिया गया। इसी कड़ी में 29 अगस्त 1947 को भारतीय संविधान के निर्माण के लिए प्रारूप समिति की स्थापना की गई और इसके अध्यक्ष के रूप में डॉ. भीमराव अंबेडकर को जिम्मेदारी सौंपी गई। 

यह भी पढ़ें: Amethi में मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान, जेंडर रेशियो बढ़ाने के निर्देश

दुनिया भर के तमाम संविधानों को बारीकी से देखने-परखने के बाद डॉ. अंबेडकर ने भारतीय संविधान का मसौदा तैयार कर लिया। 26 नवंबर 1949 को इसे भारतीय संविधान सभा के समक्ष लाया गया, इसी दिन संविधान सभा ने इसे अपना लिया। 

यही वजह है कि देश में हर साल 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि एनेकता में एकता की मिशाल है, भारत का संविधान। 

यह भी देखें: PM Modi ने सुप्रीम कोर्ट में संविधान दिवस समारोह में भाग लिया।

हमें संवैधानिक व्यवस्था के साथ चलते हुए अपने कर्तव्यों का पालन करना चाहिए। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी तेजभान सिंह, परियोजना निदेशक डीआरडीए आशुतोष दुबे, डीसी एनआरएलएम सुनील तिवारी, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. जेपी सिंह, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट रामकेवल त्रिपाठी सहित अन्य अधिकारी/कर्मचारी मौजूद रहे।

अमेठी से कुलदीप शुक्ला की रिपोर्ट