Newsnowव्यापारट्रेन सफर जल्‍द महंगा होने वाला है, यात्रियों से वसूली जाएगी User...

ट्रेन सफर जल्‍द महंगा होने वाला है, यात्रियों से वसूली जाएगी User Development Fees

फरवरी के पहले सप्‍ताह में, रेलवे मंत्रालय (Railway Ministry) और नीति आयोग (Niti Aayog) यूडीएफ (user development fees) फॉर्मूला को तय करने में सफल हो गए हैं।

New Delhi: क्‍या आप विश्‍व-स्‍तरीय रेलवे स्‍टेशन (railway stations) की सुविधा अपने देश में पाना चाहते हैं, तब आप कुछ अतिरिक्‍त पैसा खर्च करने के लिए तैयार रहें। काफी लंबे समय से इस बात पर चर्चा हो रही है कि रेलवे स्‍टेशनों पर भी एयरपोर्ट की तरह यात्रियों से यूजर डेवलपमेंट फीस (user development fees) वसूली जाए। रिपोर्ट के मुताबिक इसके लिए रेलवे मंत्रालय (Railway Ministry) ने एक कैबिनेट नोट भी जारी किया है। इसका मतलब है कि भारतीय रेलवे (indian railways) यूजर डेवलपमेंट फीस या यूडीएफ को लागू करने से बस एक कदम दूर है। जारी किए गए कैबिनेट नोट में कहा गया है कि नीति आयोग (Niti Aayog) के साथ चर्चा के बाद यूडीएफ लागू किया जाएगा।

Petrol-Diesel: दिल्ली में रिकॉर्ड स्तर पर बिक रहा पेट्रोल, लगातार बढ़ रहे फ्यूल प्राइस

फरवरी के पहले सप्‍ताह में, रेलवे मंत्रालय और नीति आयोग यूडीएफ (user development fees) फॉर्मूला को तय करने में सफल हो गए हैं।

रेल यात्रा होगी महंगी

रेलवे स्‍टेशन पर यात्रियों से यूजर डेवलपमेंट फीस (user development fees) ली जाएगी, इस प्रस्‍ताव को केंद्रीय कैबिनेट में अगले महीने मंजूरी मिलने की उम्‍मीद है। इसके बाद इसे लागू कर दिया जाएगा। इसका मतलब होगा कि अगली बार जब आप रेल टिकट बुक करेंगे तब आपसे यूडीएफ फीस भी वसूली जाएगी, जिससे आपका रेल किराया पहले के मुकाबले कुछ अधिक होगा।  

Driving Licence के लिए महीनों के इंतजार से मिलेगी मुक्ति, बिना टेस्ट बनेगा लाइसेंस

क्‍या हर किसी को user development fees देना होगा?

अब यह सवाल उठता है कि क्‍या देश में प्रत्‍येक स्‍टेशन पर यात्रियों को यूडीएफ देना होगा? इसका उत्‍तर है नहीं। यूजर डेवलपमेंट फीस केवल उन्‍हीं स्‍टेशन पर वसूला जाएगा, जिन्‍हें प्राइवेट कंपनियों द्वारा रि-डेवलपमेंट, सौंदर्यीकरण किया गया है। यदि आप इस तरह के स्‍टेशन से यात्रा शुरू कर रहे हैं तभी आपको यूडीएफ (user development fees) का भुगतान करना होगा।

रेलवे बोर्ड के पूर्व सीईओ वीके यादव के मुताबिक ऐसे 700 से 1000 रेलवे स्‍टेशन होंगे, जहां यूडीएफ (user development fees) की वसूली यात्रियों से की जाएगी। पहले चरण में 62 स्‍टेशन की पहचान की गई है, जहां रि-डेवलपमेंट की प्रक्रिया चल रही है। इसमें नई दिल्‍ली, मुंबई, नागपुर, इंदौर और चंडीगढ़ रेलवे स्‍टेशन आदि शामिल हैं।

IRCTC: केरल की कोच्चि, मुन्नार और कुमाराकोम के अलावा कई जगह की सैर करा रहा IRCTC

कितना और कैसे वसूला जाएगा UDF?

अभी तक आई रिपोर्ट के मुताबिक, कितनी यूजर डेवलपमेंट फीस (user development fees) होगी इसको अभी तय नहीं किया गया है। लेकिन एक अनुमान के मुताबिक प्रति टिकट ये 30 से 40 रुपये तक हो सकती है। यात्रा श्रेणी के मुताबिक यूडीएफ की राशि भी अलग-अलग हो सकती है। इसका मतलब है कि एसी2 और एसी3 टियर की तुलना में एसी1 टियर के लिए यूडीएफ शुल्‍क ज्‍यादा होगा। सूत्रों के मुताबिक जनरल टिकट पर यूडीएफ नहीं वसूला जाएगा। केवल यात्री टिकट पर ही नहीं बल्कि प्‍लेटफॉर्म टिकट पर भी यूडीएफ (user development fees) वसूलने की योजना है।

रेलवे बोर्ड के पूर्व सीईओ वीके यादव के मुताकि यूजर डेवलपमेंट फीस (user development fees) इस तरह होगी कि यह  आम जनता पर कोई बोझ नहीं बनेगी। यह न्‍यूनतम शुल्‍क यात्रियों को बेहतर सुविधाएं उपलब्‍ध कराने में मददगार होगा। बहुत से स्‍टेशनों को रि-डेवलपमेंट के लिए प्राइवेट कंपनियों को सौंपा गया है, ऐसे में सरकार जल्‍द ही यूडीएफ को नोटिफाई करना चाहती है ताकि अधिक से अधिक प्राइवेट कंपनियां नीलामी प्रक्रिया में भाग लेने के लिए प्रोत्‍साहित हों।