NewsnowदेशHamirpur के विद्यालय में बच्चों को जाने से लगता है डर 

Hamirpur के विद्यालय में बच्चों को जाने से लगता है डर 

जगह-जगह स्लोगन व पोस्टरों के माध्यम से स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगो को जागरूक किया जाता है, लेकिन गंदगी का अंबार कहीं और नही बल्कि शिक्षा के मंदिर में फैला हुआ है। जगह-जगह दलदल मच्छर, साँप और बिछु।

हमीरपुर/उ.प्र: मामला उत्तर प्रदेश के Hamirpur जिले के मौदहा विकास खंड की ग्राम पंचायत पिपरौंदा का है। जहां बच्चों को विद्यायल जानें में डर लगता है। 

बताते चलें प्राथमिक विद्यालय में चारों तरफ गन्दगी का अंबार लगा हुआ है। विद्यालय परिसर के अंदर जगह-जगह दलदल भरा है जिससे किसी भी वक्त बड़ी अनहोनी हो सकती है।

Hamirpur के विद्यायल परिषद में आगनवाड़ी केंद्र भी है

Children are afraid of going to Hamirpurs school
Hamirpur का एक गांव ऐसा जहाँ बच्चों को लगता है विद्यालय जाने से डर

विद्यायल परिषद में आगनवाड़ी केंद्र भी है, जिसमें बच्चों को पीठ पर लाद कर दलदल से होकर अन्दर ले जाया जाता है। ग्राम पंचायत में विकास के नाम पर ग्राम पंचायत सचिव और ग्राम प्रधान के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही।

आज हालात ऐसे हैं की बच्चों और कार्यरत रसोइयों को उसी दलदल से होकर गुजरना पड़ता है। रसोईये का कहना है कि खाना बनाते वक्त एक डर लगा रहता है क्योंकि दलदल होने की वजह से जहरीले जीवों का विद्यालय परिषद में घूमना लगा रहता है। 

वहीं बच्चों ने बताया की हमको विद्यालय आने में डर लगता है, वजह ये है कि चारो तरफ फैली गंदगी और मकड़जाल की वजह से विद्यालय में कभी कभी जहरीले कीड़े भी निकल आते हैं। 

विद्यालय प्रधानाचार्य ने बताया की पूर्व से लेकर अभी तक कई बार ग्राम प्रधान व संबधित अधिकारियों को मामले से अवगत कराया जा चुका है, लेकिन विद्यालय परिसर में दलदल भरी गंदगी रोज नई नई बीमारियो को न्योता दे रही है, जिससे किसी भी वक्त बच्चों या किसी और के साथ बड़ा हादसा हो सकता है।

Children are afraid of going to Hamirpurs school
Hamirpur के विद्यालय में बच्चों को जाने से लगता है डर

मामले की जानकारी जब खंड विकास अधिकारी मौदहा भैरो प्रसाद से ली गई तो उन्होंने टाल मटोल जवाब देते हुए मामले से पल्ला झाड़ दिया…

हमीरपुर से धर्मेन्द्र महाजन की रिपोर्ट