NewsnowदेशSrinagar मुठभेड़ के बाद जवानों-पथराव करने वालों के बीच झड़प

Srinagar मुठभेड़ के बाद जवानों-पथराव करने वालों के बीच झड़प

जम्मू-कश्मीर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस इस्लामिक आतंकियों के खात्मे के लिए संयुक्त अभियान चला रही है।

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के नौगाम इलाके में बुधवार को एक मुठभेड़ में तीन लश्कर-ए-तैयबा (LeT) के मारे जाने के बाद Srinagar में स्थानीय युवाओं और सुरक्षाकर्मियों के बीच झड़प हो गई।

जम्मू-कश्मीर के Srinagar के नौगाम इलाके में बुधवार सुबह सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकियों को ढेर कर दिया।

नौगाम में एक घर के अंदर कुछ आतंकवादी छिपे होने की खुफिया सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने अभियान शुरू किया था।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के आईजीपी विजय कुमार ने मीडिया को बताया कि नौगाम में जिन आतंकवादियों के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ हुई थी, वे लश्कर-ए-तैयबा (LeT) से जुड़े आतंकवादी संगठन द रेसिस्टेंस फ्रंट के हैं। ये आतंकी खानमोह में एक सरपंच की हत्या में शामिल थे।

Srinagar में सरपंच की हत्या 

इससे पहले बुधवार को श्रीनगर के खानमोह में आतंकियों ने सरपंच समीर भट्ट की गोली मारकर हत्या कर दी थी। लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) से जुड़े आतंकवादी संगठन रेसिस्टेंस फ्रंट ने इस हत्या की जिम्मेदारी ली थी।

दो दिन पहले सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) का एक आतंकी ओवैस राजा मारा गया था। उसके पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद भी बरामद हुआ है।

जम्मू-कश्मीर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस इस्लामिक आतंकियों के खात्मे के लिए संयुक्त अभियान चला रही है। पिछले कुछ महीनों में सुरक्षा बलों के संयुक्त अभियान में 200 से अधिक खूंखार आतंकवादी मारे गए हैं।

जम्मू-कश्मीर में इस साल अब तक 22 मुठभेड़ों में करीब 36 आतंकवादी मारे गए हैं