सोमवार, अक्टूबर 25, 2021
Newsnowप्रमुख ख़बरेंDSGMC ने देश का सबसे बड़ा किडनी डायलिसिस अस्पताल खोला दिल्ली में,...

DSGMC ने देश का सबसे बड़ा किडनी डायलिसिस अस्पताल खोला दिल्ली में, मुफ्त इलाज

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (DSGMC) ने कहा कि अस्पताल में मरीजों का इलाज मुफ्त होगा. यह देश का सबसे बड़ा Kidney Dialysis Hospital है, जहां 101 बेड हैं, जिनकी संख्या 1 साल में 1000 कर दी जाएगी.

New Delhi: दिल्ली के बाला साहिब गुरुद्वारे में गुरु हरकिशन किडनी डायलिसिस सेंटर की रविवार से शुरुआत हुई. इसे दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (DSGMC) की तरफ से शुरू किया गया है. यह अस्पताल दिल्ली के सराये काले खां में स्थित है. दावा किया गया है कि यह देश का सबसे बड़ा किडनी डायलिसिस हॉस्पिटल (Kidney Dialysis Hospital) है, जहां 101 बेड हैं, जिनकी संख्या 1 साल में 1000 कर दी जाएगी. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (DSGMC) ने कहा कि अस्पताल में मरीजों का इलाज मुफ्त होगा. 

DSGMC opens India's largest kidney dialysis hospital in Delhi, free treatment
दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (DSGMC) ने कहा कि अस्पताल में मरीजों का इलाज मुफ्त होगा. 

Tractor Rally Violence: DSGMC करा रही जमानत- जेल में बंद 121 लोग।

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी(DSGMC) के चेयरमैन मनजिंदर जीत सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने कहा कि इस डायलिसिस अस्पताल की खासियत यह है कि यहां कोई भी मरीज आये सबका इलाज एकदम फ्री होगा. किसी का आधार कार्ड या राशन कार्ड देखकर इलाज नहीं होगा. दवाइयां भी फ्री में मिलेंगी. अस्पताल में फीस के लिए कोई काउंटर तक नहीं बनाया गया है. 

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने DSGMC प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा के ख़िलाफ़ दर्ज की FIR

उन्होंने कहा कि इस अस्पताल में केवल डायलिसिस होगा. अस्पताल में इलाज़ 9 मार्च से शुरू होगा. अस्पताल में मरीजों के लिए अलग अलग कमरे भी हैं. डायलिसिस के लिए जरूरी सामान और दवाइयों के लिए अलग स्टोर हैं. 

कंगना रनौत के अपमानजनक ट्वीट पर DSGMC ने बिना शर्त माफी मांगने को कहा।

यह अस्पताल करीब 6 महीने में बनकर तैयार हुआ है. 24 घण्टे अस्पताल खुला रहेगा. एक शिफ्ट में करीब 8 डॉक्टर होंगे. 24 घण्टे में करीब 500 मरीजों का इलाज हो सकता है. उन्होंने कहा कि डायलिसिस जिसके लिए अस्पतालों में हज़ारों रुपये खर्च करने पड़ते हैं वो यहां फ्री होगा. वहीं, अस्पताल के इंचार्ज डॉक्टर वेंकटेश ने बताया कि उनकी टीम मरीजों का इलाज करने के लिए और उनकी सेवा करने के लिए पूरी तरह से तैयार है.