Newsnowदेशवेस्ट यूपी में बारिश के साथ ओलावृष्टि (Hailstone), किसानों की चिंता बढ़ी।

वेस्ट यूपी में बारिश के साथ ओलावृष्टि (Hailstone), किसानों की चिंता बढ़ी।

कृषि विज्ञान विभाग बरसात और ओलावृष्टि (Hailstone) को लेकर तीन दिन की चेतावनी जारी की है।

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बारिश और ओलावृष्टि (Hailstone) ने ठंडक बढ़ा दी है। प्रदेश के मेरठ, मुजफ्फरनगर, बागपत, अलीगढ़ और बुलंदशहर के कई इलाकों में बरसात के साथ ओलावृष्टि (Hailstone) हुई। इसके चलते इलाके में तापमान अचानक गिर गया। ओले के साथ तेज बारिश से फसल को भारी नुकसान होने की आशंका है। बता दें कि मौसम विभाग ने बारिश और ओलावृष्टि (Hailstone) की भविष्यवाणी तीन दिन पहले ही कर दी थी।

मेरठ जिले के मवाना इलाके में रविवार का दिन बारिश लेकर आया। इसके साथ ही इलाके में जमकर ओलावृष्टि (Hailstone) हुई। इससे पारा काफी गिर गया और इलाके में ठंड बढ़ गई। किसान अपनी फसल को लेकर काफी चिंतित हैं। मुजफ्फरनगर में भी ओले और बारिश से फसलों को नुकसान पहुंचा है।

नए साल में बारिश के साथ गिर सकते हैं ओले, पंजाब-हरियाणा और यूपी भी शीतलहर की चपेट में।

ओलावृष्टि से किसान को भारी नुकसान 

अलीगढ़ में बारिश और ओलाबारी (Hailstone) ने किसानों की फसलों को बुरी तरह से तबाह कर दिया है। काफी मात्रा में ओले पड़ने के कारण पूरी फसल जमीन पर बिछ गई है। इसकी वजह से कई जगहों पर प्रशासन को निराश किसानों के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा। बताया गया कि थाना नगला जंगली इलाके में ओलावृष्टि (Hailstone) से आलू की फसल को काफी नुकसान पहुंचा है। संबंधित अधिकारी को मौके पर जांच के लिए भेजा गया है। उनकी रिपोर्ट के अनुसार प्रशासन इस पर ऐक्शन लेगा। किसानों ने सरकार से मुआवजे की मांग की है।

अलीगढ़ में ओलावृष्टि से आलू की फसल बर्बाद

Hailstone with rain in West UP concern of farmers increased they are worried
वेस्ट यूपी में बारिश के साथ ओलावृष्टि (Hailstone), किसानों की चिंता बढ़ी।

अलीगढ़ में बारिश से आलू के किसान परेशान हैं। बरसात और ओलाबारी (Hailstone) के कारण खेतों में आलू की बिछी फसल को देखकर किसानों के होश उड़ गए। किसान कृषि कानूनों (Farm Laws) को लेकर पहले ही आक्रोशित हैं। वहीं अब प्राकृतिक आपदाओं से फसलों को नुकसान पहुंचने पर उन्होंने अलीगढ़ के मथुरा इगलास रोड पर जाम लगाकर गुस्सा निकाला। फसल बर्बादी के कारण किसान मुआवज़े की मांग कर रहे हैं।

कृषि विज्ञान विभाग की चेतावनी

बागपत जिले के खेकड़ा तहसील रविवार को ओलाबारी (Hailstone) का गवाह बनी। यहां न्यूनतम 14 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान यहां 17 डिग्री था। कृषि विज्ञान केंद्र के डॉक्टर संदीप चौधरी ने बताया कि मौसम विभाग ने 3 दिन की चेतावनी जारी की है। इसमें ओलावृष्टि (Hailstone) के साथ बारिश और तेज हवाएं चलने की संभावना है। उन्होंने बताया कि सरसो की फसल को ओलावृष्टि से नुकसान होने की संभावना है जबकि बदले मौसम से गेहूं की फसल को फायदा मिलेगा।

नोएडा में भी रविवार को बारिश हुई। इस दौरान चिल्ला बॉर्डर पर किसानों का प्रदर्शन जारी रहा। बारिश किसानों के हौसलों को डिगाने में कामयाब नहीं हो पाई। इस दौरान किसानों ने तंबू लगाकर बारिश से खुद का बचाव किया। बता दें कि केंद्र सरकार के कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ महीने भर से ज्यादा समय से प्रदर्शन कर रहे हैं।