शनिवार, दिसम्बर 4, 2021
NewsnowदेशDisha Ravi को लेकर 'समूल नाश' वाले ट्वीट के लिए हरियाणा के...

Disha Ravi को लेकर ‘समूल नाश’ वाले ट्वीट के लिए हरियाणा के मंत्री को ट्विटर का नोटिस

Toolkit Case में दिल्‍ली पुलिस ने कार्रवाई करते हुए शनिवार को बेंगलुरु से 22 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि (Disha Ravi) को गिरफ्तार किया था.

New Delhi: किसान आंदोलन से जुड़े टूलकिट (Toolkit) मामले में पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) की गिरफ्तारी को लेकर हरियाणा सरकार के वरिष्‍ठ मंत्री अनिल विज (Anil vij) ने ‘सख्‍त’ ट्वीट किया है. राज्‍य की बीजेपी सरकार के गृह मंत्री विज ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘देश विरोध का बीज जिसके भी दिमाग में हो उसका समूल नाश कर देना चाहिए फिर चाहे वह #दिशा_रवि हो यां कोई और.’ 

Greta Thunberg Toolkit Case: 21 साल की एक्टिविस्ट दिशा रवि बेंगलुरु से गिरफ्तार

इस ट्वीट के मामले में ट्विटर ने एक जर्मन यूजर की शिकायत पर अनिल विज को नोटिस जारी किया है. दिशा रवि (Disha Ravi) को सोशल मीडिया पर किसानों के प्रदर्शन (Farmers Protest) से संबंधित ”टूलकिट” (Toolkit) कथित रूप से साझा करने को लेकर बेंगलुरू से गिरफ्तार किया गया है. दिल्ली पुलिस ने दावा किया है कि 21 वर्षीय दिशा ”टूलकिट गूगल डॉक” की संपादक हैं और दस्तावेज बनाने और उसका प्रसार करने वाली ”मुख्य साजिशकर्ता” हैं.

गौरतलब है कि पर्यावरण कार्यकर्ता और नोबेल अवार्ड विजेता ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने तीन कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ किसानों के आंदोलन (Farmers Protest) का समर्थन करने के लिए एक ”टूल किट ” (Toolkit) साझा की थी. इस ”टूल किट ” में विभिन्न कदमों के बारे में जानकारी दी गई थी जिनमें ट्विटर पर विरोध करना, भारतीय दूतावासों के बाहर प्रदर्शन करना शामिल हैं.

दिशा रवि, निकिता जैकब और शांतनु ने “Toolkit” बनाई और शेयर किया-दिल्‍ली पुलिस

टूलकिट केस (Toolkit Case) में दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने कार्रवाई करते हुए शनिवार को बेंगलुरु से 22 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि (Disha Ravi) को गिरफ्तार किया गया था. इसी क्रम में लॉयर एक्टिविस्ट निकिता जैकब (Nikita Jacob) और शांतनु (Shantanu Muluk) के खिलाफ गैर-जमानती अरेस्ट वारंट जारी किया गया है. उन्हें रविवार को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया था, जहां से उन्हें पुलिस के पांच दिन की रिमांड में भेजा गया है