NewsnowदेशMeerut: पूरे जोन में हाई अलर्ट, हर मूवमेंट पर रखी जा रही...

Meerut: पूरे जोन में हाई अलर्ट, हर मूवमेंट पर रखी जा रही है नजर

मेरठ एसपी सिटी अखिलेश नारायण ने बताया पूरे मेरठ (Meerut) को कई जोन और सेक्टर में बांटा गया है. साथ ही संवेदनशील और अतिसंवेदनशील इलाकों में भारी तादाद में पुलिस फोर्स तैनात की गई है जो हर मूवमेंट पर नजर रख रही है.

Meerut: गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर खुफिया एजेंसियों की तरफ से मिले इनपुट के बाद मेरठ (Meerut) समेत पूरे जोन में हाई अलर्ट कर दिया गया है. सुरक्षा व्यवस्था चुस्त और दुरुस्त रहे इसे लेकर मेरठ पुलिस (Meerut Police) पूरी तरह से अलर्ट मोड में है. यही वजह है कि लगभग 250 जगह सीसीटीवी कैमरे लगाकर इलाकों की निगरानी की जा रही है. इतना ही नहीं चौराहों और सड़कों पर पुलिस टीम वाहन चेकिंग कर अराजक तत्वों पर भी नजर रख रही है.

UP: दुष्कर्म का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाला गिरफ्तार

गणतंत्र दिवस को देखते हुए मेरठ (Meerut) में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद नजर आ रहा है. पुलिस टीम हर सड़क और चौराहे पर तैनात है. वाहनों की चेकिंग भी की जा रही है. हर आने-जाने वाले वाहनों को रोका जा रहा है. अगर किसी के पास बाइक है तो उसकी तलाशी भी ली जा रही है. पूरी तरह से संतुष्ट होने के बाद ही पुलिस की तरफ से लोगों को जाने दिया जा रहा है.

दिल्ली में रात के वक्त घूम रहे हैं ऑटो वाले लुटेरे

मेरठ एसपी सिटी अखिलेश नारायण ने बताया पूरे मेरठ (Meerut) को कई जोन और सेक्टर में बांटा गया है. साथ ही संवेदनशील और अतिसंवेदनशील इलाकों में भारी तादाद में पुलिस फोर्स तैनात की गई है जो हर मूवमेंट पर नजर रख रही है. समय-समय पर औचक निरीक्षण कर स्थिति का जायजा भी लिया जा रहा है. इसके अलावा होटल, रेस्टोरेंट, रेलवे स्टेशन, बस अड्डा और साइबर कैफे पर प्रशासन की विशेष नजर है.

लकी ड्रा के नाम पर 2.25 करोड़ का चूना लगाने वाले बाप-बेटे गिरफ्तार

भीड़भाड़ वाले इलाकों या फिर सूनसान इलाके में सादी वर्दी में भी पुलिस फोर्स तैनात की गई है. हर मूवमेंट पर नजर रखी जा रही है. पुलिस की कई टीमें वाहनों पर अलर्ट मोड पर रहती हैं जिससे सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर तत्काल कार्रवाई की जा सके.

मेरठ में अधिकारियों की मानें तो सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह से चाक-चौबंद है और अधिकारी समय-समय पर निरीक्षण कर स्थिति का जायजा ले रहे हैं. इतना ही नहीं मेरठ (Meerut) से लगी अन्य जिलों की सीमाओं पर भी चौकसी बढ़ा दी गई है.