Newsnowक्राइमMP के रीवा हाईवे पर बस दुर्घटना में यूपी के 15 मजदूरों...

MP के रीवा हाईवे पर बस दुर्घटना में यूपी के 15 मजदूरों की मौत

लगभग 100 लोगों के साथ बस, उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जा रही थी, जब बीती देर रात रीवा में सुहागी पहाड़ी के पास बस एक स्थिर ट्रक से टकरा गई।

MP: मध्य प्रदेश के रीवा में हाईवे पर एक बस और ट्रक की टक्कर में कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई और 40 अन्य घायल हो गए।

लगभग 100 यात्रियों के साथ बस, उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जा रही थी, जब बीती देर रात रीवा में सुहागी पहाड़ी के पास एक स्थिर ट्रक से टकरा गई।

यह भी पढ़ें: Kanpur Accident Update: 26 लोगों की मौत का गुनाहगार, ट्रैक्टर ड्राइवर गिरफ़्तार 

MP के रीवा हाईवे की दुर्घटना है

15 UP workers killed in bus accident on MP's Rewa Highway
Madhya Pradesh में रीवा हाईवे पर दिवाली मनाने के लिए घर जा रहे यूपी के 15 मजदूरों की बस हादसे में हुई मौत

अधिकारियों ने कहा कि घायलों को सुहागी के एक अस्पताल में ले जाया गया, जबकि गंभीर रूप से घायल लोगों का इलाज रीवा के संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में किया जा रहा है।

अधिकारियों ने कहा कि ट्रक राजमार्ग पर फंस गया था क्योंकि उसका एक अन्य ट्रक से दुर्घटना हो गई थी। तभी बस ने पीछे से ट्रक को टक्कर मार दी।

दिवाली मनाने के लिए घर जा रहे मजदूर

रीवा के पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने कहा कि बस में यात्रा करने वाले ज्यादातर लोग उत्तर प्रदेश के मजदूर थे, जो मध्य प्रदेश के कटनी से बस में सवार हुए थे।

अधिकारियों ने बताया कि मजदूर एक अलग बस से हैदराबाद से कटनी आए थे, उन्होंने कहा कि वे दिवाली के लिए घर जा रहे थे।

राहगीर ने पुलिस को हादसे की सूचना दी

सूत्रों का कहना है कि किसी राहगीर ने पुलिस को हादसे की सूचना दी थी।

पुलिस ने कहा कि मामला दर्ज कर लिया गया है और दुर्घटना के सही कारणों का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है।

यूपी सीएम ने दुर्घटना पीड़ितों के परिवारों को मुआवजे की घोषणा की

CM Yogi visited Bulandshahr
सीएम योगी का Bulandshahr दौरा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवारों को दो-दो लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की है। गंभीर रूप से घायलों को प्रत्येक को ₹50,000 दिए जाएंगे।

MP के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी हादसे पर दुख जताया है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने बताया कि रीवा जिला प्रशासन द्वारा शवों को उत्तर प्रदेश में उनके परिजनों को भेजने की व्यवस्था की जा रही है।