Newsnowप्रमुख ख़बरेंMumbai फ़िल्म उद्योग को 33 प्रतिशत क्षमता पर शूटिंग की अनुमति, महाराष्ट्र...

Mumbai फ़िल्म उद्योग को 33 प्रतिशत क्षमता पर शूटिंग की अनुमति, महाराष्ट्र में सप्ताहांत में तालाबंदी के बीच

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने Mumbai फिल्म उद्योग के सदस्यों के साथ एक मुलाकात की और उन्हें बड़े और असाधारण दृश्यों की शूटिंग से बचने के लिए कहा

मुंबई: फिल्म उद्योग मुंबई (Mumbai) फिर से धरातल पर है। सिनेमा हॉल 50 प्रतिशत की क्षमता पर काम करने और रात के कर्फ्यू के कारण नाइट शो रद्द कर दिए जाने के बाद भी एक और मुद्दा था (फ़िल्मों को शुक्रवार प्रदशित करना) जो फिल्म उद्योग को आगे स्थापित करता, लेकिन सप्ताहांत लॉकडाउन शुक्रवार 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक लागू होने के बाद, जो फ़िल्मकार अपने निवेश की प्राप्ति करने के लिए सप्ताहांत में रिलीज की उम्मीद लगाए बेठे थे उनके भी अरमानों में पानी फिर गया।

Mumbai में पहली बार एक दिन में 11,000 से अधिक Coronavirus मामले

इसके अतिरिक्त, राज्य सरकार ने फिल्म और टीवी इकाइयों को सप्ताहांत में काम जारी रखने की अनुमति दी है, लेकिन अब से, सभी शूटिंग केवल 33% के साथ सेट पर होगी। शूटिंग दल के सदस्यों को मास्क पहनना होगा और सामाजिक दूरी का पालन करना होगा। 

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फिल्म उद्योग के सदस्यों के साथ एक मुलाकात की और उन्हें बड़े और असाधारण दृश्यों की शूटिंग से बचने के लिए कहा, जिनमें नर्तक और जूनियर कलाकारों की आवश्यकता होती है। इस निर्णय से फ़िल्मी उद्योग ख़ास तौर से जूनियर कलाकारों में काफ़ी निराशा का माहोल क़ायम हो गया है।

Mumbai 8,648 Covid-19 मामले और 20 मौतें, एक दिन का उच्चतम

ग़ौरतलब है की जूनियर कलाकार और नर्तक कलाकार काफ़ी हद तक अपनी रोज़ी रोटी के लिए अपनी इन छोटी-छोटी भूमिकाओं से ही अपनी जीविका चलाते हैं।

वहीं FWICE के अध्यक्ष बीएन तिवारी ने सूचित किया की “जूनियर कलाकारों और नर्तकियों और बड़े लड़ाई के दृश्यों को शूट करने की अनुमति नहीं दी जाएगी और केवल 33 प्रतिशत सदस्यों को अनुमति दी जाती है, जैसा की 2020 सितंबर में था।