रविवार, अक्टूबर 24, 2021
NewsnowविदेशBalochistan Liberation Army ने की थी पाकिस्‍तानी सैनिकों की हत्‍या,हथियार छीने,वर्दी उतारी।

Balochistan Liberation Army ने की थी पाकिस्‍तानी सैनिकों की हत्‍या,हथियार छीने,वर्दी उतारी।

पाकिस्‍तान के बलूचिस्तान (Balochistan) प्रांत के हरनाई में स्थित फ्रंटियर कोर के शारिग पोस्ट पर हुए भीषण हमले की जिम्‍मेदारी विद्रोही गुट बलूचिस्‍तान लिबरेशन आर्मी (BLA) ने ली है।

Islamabad: पाकिस्‍तान के बलूचिस्तान (Balochistan) प्रांत के हरनाई में स्थित फ्रंटियर कोर के शारिग पोस्ट पर हुए भीषण हमले की जिम्‍मेदारी विद्रोही गुट Balochistan Liberation Army (BLA) ने ली है। बीएलए (BLA) ने अपने बयान में चेतावनी दी कि कोहलू-कहान रोड को अगर बनाया गया तो इसका अंजाम बहुत बुरा होगा। बलूच संगठन ने कहा कि इस रोड को बलूचों के राष्‍ट्रीय हित के खिलाफ पाकिस्‍तान के पंजाबी बना रहे हैं और उन्‍हें पाकिस्‍तानी सेना संरक्षण दे रही है। शनिवार को बीएलए (BLA) के इस हमले में 7 पाकिस्‍तानी सैनिक मारे गए थे।

Balochistan Liberation Army ने तस्वीरें साझा की

Balochistan Liberation Army (BLA) की ओर से सोशल मीडिया पर जारी तस्‍वीरों में नजर आ रहा है कि हमले के दौरान पाकिस्‍तानी सैनिकों के कपड़े उतार लिए गए और उनके हथियार तक को छीन लिया गया था। बीएलए (BLA) ने कहा कि उसने पहले ही चेतावनी दी थी कि अगर कोहलू-कहान रोड को बनाया गया तो इसका बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। इसलिए सेना की मदद से इस सड़क को बना रही पाकिस्‍तानी कंपनियों को निर्माण कार्य बंद कर देना चाहिए। 

पाकिस्‍तानी सेना के खिलाफ हमले आगे भी जारी रहेंगे

Balochistan Liberation Army (BLA) ने कहा कि बलूचों के राष्‍ट्रीय संपदा को लूटने का इरादा रखने वाली पाकिस्‍तानी ताकतों के खिलाफ बलूचिस्‍तान की आजादी तक संघर्ष जारी रहेगा। उसने चेतावनी दी कि पाकिस्‍तानी सेना के खिलाफ इस तरह के हमले आगे भी जारी रहेंगे। उन्‍होंने स्‍थानीय लोगों और पाकिस्‍तानी कंपनियों से अपील की कि वे बलूचिस्‍तान पर कब्‍जा करने में पाकिस्‍तानी सेना की मदद नहीं करें। 

यह भी पढ़ें: Pakistan- कराची में प्राचीन हिंदू मंदिर में जमकर तोड़फोड़, भगवान गणेश की प्रतिमा को तोड़ा

इससे पहले शनिवार देर रात बलूच विद्रोहियों (Balochistan Liberation Army) ने पाकिस्तानी सेना के पोस्ट पर हमला कर सात जवानों की हत्या कर दी। इसके बाद स्थानीय लोगों से बदला लेने पर आमादा पाकिस्तानी सेना ने पूरे क्षेत्र में व्यापक अभियान छेड़ दिया। पाकिस्तानी सेना ऐसे अभियानों के जरिए यहां के आम लोगों के घरों में घुसकर उनसे न केवल अभद्रता करती है जबकि विरोध करने पर लोगों को आतंकी बताकर गोली मार देती है।

इस हमले के बाद अपनी नाकामियों को छिपाने में जुटे इमरान खान ने पाकिस्‍तानी सेना पर हमले के पीछे सीधे-सीधे भारत का हाथ बताया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘देर रात फ्रंटियर कॉप्स के पोस्ट पर आतंकवादी हमले में 7 जवानों की शहादत को सुनकर दुख हुआ। मेरी हार्दिक संवेदना और प्रार्थनाएँ उनके परिवारों के लिए हैं। हमारा राष्ट्र हमारे साहसी सैनिकों के साथ खड़ा है जो भारतीय समर्थित आतंकवादियों के हमलों का सामना करते हैं।’