Newsnowदेशभारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

भारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने स्‍थायी चिकित्‍सा प्रतिउपाय प्‍लेटफॉर्म बनाकर फार्मास्युटिकल क्षेत्र में सहयोग को मजबूत करने पर जोर दिया।

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने गुरुवार को कहा कि G20 की अध्यक्षता के दौरान भारत ‘एक स्वास्थ्य’ दृष्टिकोण और रोगाणुरोधी प्रतिरोध (एएमआर) निगरानी के माध्यम से स्वास्थ्य आपात स्थितियों की रोकथाम, तैयारी और प्रतिक्रिया पर ध्यान केंद्रित करेगा।

यह भी पढ़ें: Covid-19 Update: चीन में कोरोना संकट के बीच भारत में 157 नए मामले सामने आए

श्री मांडविया ने कहा, “भारत की G20 अध्यक्षता स्वास्थ्य प्राथमिकताओं में स्वास्थ्य आपात स्थितियों की रोकथाम, तैयारी और प्रतिक्रिया पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।”

India to focus on health during G20 presidency
भारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

‘एक स्वास्थ्य’ दृष्टिकोण बेहतर सार्वजनिक स्वास्थ्य परिणाम प्राप्त करने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य, पशु स्वास्थ्य और पर्यावरणीय स्वास्थ्य क्षेत्रों के बीच साक्ष्य प्रदान करने और अग्रिम अंतर-क्षेत्रीय सहयोग प्रदान करने के लिए एएमआर निगरानी पर कार्यक्रमों, नीतियों और अनुसंधान को डिजाइन, कार्यान्वित और निगरानी में मदद करता है।

भारत का लक्ष्य ग्लोबल हेल्थ आर्किटेक्चर के लिए कई मंचों पर विचार-विमर्श करने में एक प्रमुख भूमिका निभाना होगा और विखंडन और दोहराव को कम करने के लिए एक सक्षमकर्ता के रूप में कार्य करना होगा। देश बहुपक्षीय वैश्विक स्वास्थ्य मंचों पर वार्ता में वैश्विक दक्षिण का प्रतिनिधित्व करने में एक सक्रिय भूमिका निभाने का भी लक्ष्य रखेगा।

India to focus on health during G20 presidency
भारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

केंद्रीय मंत्री ने एक स्थायी चिकित्सा प्रतिउपाय मंच बनाकर और सुरक्षित, गुणवत्तापूर्ण और किफायती नैदानिक ​​टीकों और चिकित्सीय की उपलब्धता सुनिश्चित करके फार्मास्युटिकल क्षेत्र में सहयोग को मजबूत करने पर भी जोर दिया।

भारत को विश्व की फार्मेसी कहा जाता है। भविष्य की स्वास्थ्य आपात स्थितियों का प्रबंधन करने के लिए विश्व स्तर पर टीकों, दवाओं और निदान के वितरित विनिर्माण को बढ़ावा देने के एजेंडे का उपयोग करने में सक्षम होगा।

महामारी के दौरान भारत ने वैश्विक स्तर पर दवाओं और टीकों का निर्यात किया

India to focus on health during G20 presidency
भारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

भारत ने महामारी के दौरान वैश्विक स्तर पर 150 से अधिक देशों को दवाओं और टीकों का निर्यात किया है।

वर्तमान में, चिकित्सा प्रतिउपायों की उपलब्धता को राष्ट्रीय सुरक्षा से जोड़ा जा रहा है और भारत वैश्विक दक्षिण और निम्न और निम्न-मध्यम आय वाले देशों के लिए स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित करने में एक सक्रिय भूमिका निभाना सुनिश्चित कर सकता है।

श्री मंडाविया ने सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करके और स्वास्थ्य सेवा वितरण में सुधार करके चिकित्सा प्रति-उपायों, चिकित्सा मूल्य यात्रा और समग्र स्वास्थ्य सेवा तक पहुंच का विस्तार करने के लिए सहयोगी अनुसंधान पर एक डिजिटल स्वास्थ्य कार्यशाला जैसे साइट इवेंट का भी प्रस्ताव रखा।

भारत में पहले से ही डिजिटल स्वास्थ्य में एक स्थापित नेतृत्व की स्थिति है। 71वीं विश्व स्वास्थ्य सभा में डिजिटल स्वास्थ्य संकल्प भारत द्वारा पेश किया गया था और विश्व द्वारा इसका समर्थन किया गया था।

भारत डिजिटल स्वास्थ्य के लिए सबसे बड़े अंतर-सरकारी निकाय (जिसमें 33 सदस्य देश हैं) ग्लोबल डिजिटल हेल्थ पार्टनरशिप का अध्यक्ष रहा है।

India to focus on health during G20 presidency
भारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

Co-WIN, टेलीमेडिसिन और COVID-19 इंडिया प्लेटफॉर्म जैसे डिजिटल स्वास्थ्य समाधानों के उपयोग ने स्वास्थ्य सेवा वितरण में डेटा-संचालित अंतर्दृष्टि और पहुंच, उपलब्धता में आसानी और सामर्थ्य के लिए प्रौद्योगिकी के उपयोग के लाभों पर प्रकाश डाला।

विशेष रूप से, पहली स्वास्थ्य कार्य समूह (HWG) की बैठक 18 -20 जनवरी को तिरुवनंतपुरम, केरल में आयोजित की जाएगी। दूसरी HWG बैठक 17-19 अप्रैल के दौरान गोवा में, तीसरी 4-6 जून के दौरान हैदराबाद में और चौथी HWG बैठक और G20 स्वास्थ्य मंत्रिस्तरीय बैठक 17-19 अगस्त को गांधीनगर में होगी।

भारत ने 2022 में G-20 की अध्यक्षता ग्रहण की

India to focus on health during G20 presidency
भारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

भारत ने औपचारिक रूप से 1 दिसंबर, 2022 को G20 की अध्यक्षता ग्रहण की और 30 नवंबर, 2023 तक इसे धारण करेगा।

भारत के लिए, 2017 के बाद से G20 विचार-विमर्श के लिए स्वास्थ्य सेवा के लिए एक एजेंडा स्थापित करने का अवसर एक प्राथमिकता वाला क्षेत्र रहा है।

G20 के पास अब अपनी वित्तीय धारा में स्वास्थ्य वित्त और शेरपा धारा में स्वास्थ्य प्रणाली विकास है। स्वास्थ्य मंत्रियों और एक संयुक्त स्वास्थ्य और वित्त टास्क फोर्स की वार्षिक जी20 बैठक इस विषय की गंभीरता को दर्शाती है।

India to focus on health during G20 presidency
भारत G20 अध्यक्षता के दौरान स्वास्थ्य आपात रोकथाम पर ध्यान केंद्रित करेगा

G20 स्वास्थ्य मंत्रियों के बर्लिन घोषणा 2017 ने महामारी की तैयारी, स्वास्थ्य प्रणाली को मजबूत करने और रोगाणुरोधी प्रतिरोध से निपटने पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक समग्र दृष्टिकोण प्रदान किया।

COVID-19 महामारी ने महामारी की तैयारियों को अतिरिक्त तात्कालिकता दी और 2022 में इंडोनेशियाई राष्ट्रपति पद ने इसे प्रमुख फोकस बना दिया।