Newsnowप्रमुख ख़बरेंPM Narendra Modi ने किया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट...

PM Narendra Modi ने किया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट का उद्धाटन

पीएम मोदी(PM Narendra Modi) ने कहा कि सैकड़ों वर्षों का इतिहास संजोए यह शहर (आगरा) इक्कीसवीं सदी के साथ कदमताल करने के लिए तैयार हो रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार को आगरा मेट्रो रेल प्रोजेक्ट (Agra Metro Rail Project) का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि सैकड़ों वर्षों का इतिहास संजोए यह शहर (आगरा) इक्कीसवीं सदी के साथ कदमताल करने के लिए तैयार हो रहा है। आठ हजार करोड़ रुपये से अधिक का यह मेट्रो प्रोजेक्ट आगरा में स्मार्ट सुविधाओं से जुड़े मिशन को और मजबूत करेगा। बीते 6 वर्षों में यूपी के साथ ही पूरे देश में जिस स्पीड और स्केल पर मेट्रो नेटवर्क का काम हुआ वह सरकार की पहचान और प्रतिबद्धता दोनों को दर्शाता है।

कुल 8,379.62 करोड़ रुपए की अनुमानित लागत से बनने वाली आगरा मेट्रो रेल परियोजना के तहत कुल 29.4 किमी. लंबे दो कॉरिडोर का निर्माण प्रस्तावित है. ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा के बीच लगभग 14 किमी. लंबा पहला कॉरिडोर बनेगा, जिसमें 13 मेट्रो स्टेशन होंगे. दूसरा कॉरिडोर आगरा कैण्ट से कालिन्दा विहार के बीच निर्मित होगा, जिसकी लंबाई 15.4 किमी. होगी और इसमें कुल 14 मेट्रो स्टेशन होंगे.

र्वर्चुअल संबोधन के दौरान पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा, ‘दो-तीन दिनों पहले तेलंगाना, हैदराबाद में गरीब और मध्यम वर्ग ने सरकार के प्रयासों को अभूतपूर्व आशीर्वाद दिया है। आपका साथ ही मेरी प्रेरणाशक्ति है।’ पीएम मोदी ने कहा, ‘कोरोना के टीके का इंतजार है, मैं पिछले दिनों जब वैज्ञानिकों से मिला, अब टीके में ज्यादा देर होगी ऐसा कतई नहीं लगता। संक्रमण से बचाव को लेकर हमारी सावधानी में कोई कमी नहीं आनी चाहिए। मास्क- दो गज की जरूरी अभी भी बहुत जरूरी है।’

पीएम मोदी ने कहा, ‘आधुनिक सुविधाएं और कनेक्टिविटी मिलने से पश्चिमी यूपी का ये सामर्थ्य और बढ़ रहा है। देश का पहला रैपिड रेल ट्रांसपोर्ट सिस्टम मेरठ से दिल्ली के बीच बन रहा है। दिल्ली-मेरठ के बीच 14 लेन का एक्सप्रेस-वे भी जल्द ही इस क्षेत्र के लोगों को सेवा देने लगेगा।’ उन्होंने कहा, ‘जब आप साहस और समर्पण के साथ आगे बढ़ते हैं तो कोई भी बाधा आपको रोक नहीं सकती। भारत का सामान्य युवा, भारत के छोटे शहर आज यही साहस और समर्पण दिखा रहे हैं।’

इस कार्यक्रम के दौरान आगरा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘हर वर्ष आगरा में देश और विदेश से लाखों पर्यटक आते हैं। लेकिन इको फ्रेंडली ट्रांसपोर्ट सिस्टम की कमी के चलते हमें टूरिजम इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था।’

आगरा मेट्रो परियोजना में कुल 29.4 किमी की लंबाई वाले दो कॉरिडोर शामिल हैं और यह ताजमहल, आगरा किला, सिकंदरा जैसे प्रमुख पर्यटक स्थलों को रेलवे स्टेशनों और बस स्टैंड को जोड़ेगा। इस परियोजना से शहर की 26 लाख आबादी को लाभ होगा। इस परियोजना के प‍हले चरण में सिकंदरा से ताज ईस्‍ट गेट कॉरिडोर तैयार किया जाएगा। अनुमान है कि पहले चरण में दिसंबर 2022 तक सिकंदरा से ताज ईस्ट गेट तक मेट्रो सेवा शुरू हो जाएगी।