Newsnowव्यापारWistron India: आईफोन मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट में हिंसा के बाद बढ़ी ऐपल की...

Wistron India: आईफोन मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट में हिंसा के बाद बढ़ी ऐपल की चिंता।

ऐपल के लिए आईफोन बनाने के लिए स्थापित विस्ट्रन (Wistron India) की नरसुपुरा यूनिट के राज्य सरकार और कंपनी की ओर से जांच पूरी होने तक बंद रहने के आसार हैं.

ऐपल की कॉन्ट्रैक्ट मैन्यूफैक्चरर विस्ट्रन इंडिया (Wistron India) में कर्मचारियों के आंदोलन और हिंसा ने इसकी चिंता बढ़ा दी है. बेंगलुरू की नरसुपूरा यूनिट में वेतन को लेकर हुई हिंसा के बाद ऐपल ने यहां अपनी अतिरिक्त टीम भेजने का फैसला किया है. यह टीम हालात का जायजा लेगी और नुकसान का आकलन करेगी. कंपनी की टीम इस बात का पता लगाएगी आखिर हिंसा की वजह क्या थी? ऐपल ने कहा है कि वह अपने सप्लाई चेन में हर किसी के साथ गरिमा और बराबरी के व्यवहार के लिए प्रतिबद्ध है.

कुछ दिनों तक बंद रह सकती है आईफोन बनाने वाली यूनिट 

ऐपल के लिए आईफोन बनाने के लिए स्थापित विस्ट्रन (Wistron India) की नरसुपुरा यूनिट के राज्य सरकार और कंपनी की ओर से जांच पूरी होने तक बंद रहने के आसार हैं. यहां आईफोन एसई की असेंबलिंग की नई यूनिट की शुरुआत की गई थी. ऐपल एक अधिकारी ने कहा कि अभी यह कहा नहीं जा सकता कि विस्ट्रन की यह यूनिट कब तक बंद रहेगी.

श्रमिकों ने वेतन और बोनस न देने का लगाया आरोप 

शनिवार को नरसुपुरा यूनिट में उस वक्त हिंसा भड़क उठी जब कर्मचारियों ने रेगुलर वेतन और बकाया न दिए जाने का आरोप लगाते हुए पथराव शुरू कर दिया. उन्होंने यूनिट में खड़ी कुछ गाड़ियों में भी आग लगा दी. रिपोर्ट्स के मुताबिक कर्मचारियों ने यहां बना कर रखे गए आईफोन एसई के जखीरों को लूटना शुरू कर दिया. विस्ट्रन ने कहा है कि उसने श्रम कानून से संबंधित किसी भी प्रावधान का उल्लंघन नहीं किया है. वे राज्य सरकार की जांच एजेंसियों से पूरा सहयोग कर ही है. जबकि कर्मचारियों का कहना है कंपनी उनका नियमित वेतन नहीं दे रही है. साथ ही ओवरटाइम देने से भी इनकार किया जा रहा है.

विस्ट्रन (Wistron India) की इस यूनिट में आईफोन एसई मॉडल के फोन बनाए जाते हैं. एसई मॉडल के आईफोन के पहले फोन पहले ऐसे फोन है, जो भारत में पहली बार बनने शुरू हुए थे. अब आईफोन के चार और मॉडलों का यहां निर्माण हो रहा है.