शुक्रवार, जनवरी 28, 2022
NewsnowदेशHardoi जनसभा को अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर ने संबोधित किया

Hardoi जनसभा को अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर ने संबोधित किया

Hardoi पहुंच कर अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर ने जनसभा को किया संबोधित, भाजपा सरकार पर साधा निशाना, पूर्व विधायक अनिल वर्मा समेत कई भाजपा कार्यकर्ताओं को दिलाई सपा में सदस्यता।

हरदोई/यूपी: अखिलेश यादव ने Hardoi में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा नेताओं को गाड़ी चलाना और जीप चलाना ही आता है। उत्तर प्रदेश की राजनीति में सपा और सुभा सपा मिलकर चुनाव मैदान में उतर रहे हैं।

दोनों मिलकर भाजपा सरकार पर हमला करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं, इतना ही नहीं दोनों मिलकर 2022 में सरकार बनाने का दावा भी कर रहे हैं।

Hardoi के सण्डीला विधानसभा में पड़ने बाले ब्लॉक भरावन के ग्राम सागर गढ़ी, निकट काकेमऊ झाबर मैदान में महाराज सल्हीय सिंह अर्कवंशी के 15वे मूर्ति स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व केबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर पहुंचे।

इस दौरान एक विशाल जनसभा का आयोजन किया गया। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील अर्कवंशी द्वारा इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

Hardoi जनसभा में दोनों ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा।

Hardoi में जनसभा पर पहुंचकर अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। दोनों ने 2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने का दावा किया और भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा नेता सिर्फ गाड़ी चढ़ाना और जीप चलाना जानते हैं।

Akhilesh Yadav Rajbhar addressed Hardoi public meeting
इस दौरान एक विशाल जनसभा का आयोजन किया गया।

उन्होंने कहा कि विकास के नाम पर भाजपा जीरो है, इस बार जनता समाजवादी पार्टी के साथ है, और 2022 में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के गठबंधन में भाजपा को हराने का काम किया जाएगा। वहीं ओमप्रकाश राजभर भी भाजपा सरकार पर हमलावर होते हुए बोले कि भाजपा सरकार ने गरीबों को धोखा देने का काम किया है। 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार अपने वादे के अनुसार लोगों को ना तो विकास दे पाई है और ना ही जातिगत जनगणना करा रही है। 

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेतृत्व में 2022 में सरकार बनने जा रही है, जिसके बाद जातिगत जनगणना पर जोर दिया जाएगा, साथ ही दबे कुचले समाज को मुख्यधारा में लाने का काम भी किया जाएगा। 

हालांकि इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक रहे अनिल वर्मा कई कार्यकर्ताओं सहित अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी को ज्वाइन करने Hardoi के मंच पर पहुंचे। 

अखिलेश यादव ने उन्हें समाजवादी पार्टी की सदस्यता दिलाई और अखिलेश यादव ने पूर्व विधायक अनिल वर्मा को सपा ज्वाइन कराते हुए कहा कि भाजपा सिर्फ लुटेरों का सम्मान करना जानती है, जिसके चलते इमानदार कार्यकर्ता और मेहनतकश कार्यकर्ता समाजवादी पार्टी को ज्वाइन कर रहे हैं और भाजपा से उनका मोहभंग हो रहा है।