NewsnowदेशBudaun के जिला महिला अस्पताल की ओपीडी से डॉक्टर गायब

Budaun के जिला महिला अस्पताल की ओपीडी से डॉक्टर गायब

जिला महिला अस्पताल की ओपीडी से डॉक्टर गायब, बिना उपचार के मरीज घर वापस लौटे। मरीज़ों ने बताया डॉक्टर 11:00 बजे के बाद ही आकर बैठते हैं और एक दो मरीज को देखकर चले जाते हैं।

Budaun/उ.प्र: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक भले ही गरीबों को बेहतर चिकित्सा सुविधा दिलाने की लाख कोशिश कर रहे हैं लेकिन स्वास्थ्य विभाग फिर भी सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। 

Budaun का जिला महिला चिकित्सालय बदहाल 

Doctors missing from Budaun District Women's Hospital OPD
Budaun के जिला महिला अस्पताल की ओपीडी से डॉक्टर गायब

सोमवार को हमारी टीम ने सुबह 8:00 बजे जिला महिला चिकित्सालय बदायूं में पहुंचकर पड़ताल शुरू की तो अस्पताल की ओपीडी में 11:00 बजे तक कोई डॉक्टर अपने चेंबर में बैठे दिखाई नहीं दिए सभी चेंबरो में कुर्सियां खाली दिखाई दी।

यह भी पढ़ें: Budaun जिला अस्पताल में फिटनेस के नाम पर छात्र-छात्राओं से अवैध वसूली

मरीजों से जब हमारी टीम ने बात की तो उन्होंने बताया कि डॉक्टर 11:00 बजे के बाद ही आकर बैठते हैं और एक दो मरीज को देखकर चले जाते हैं। 

Doctors missing from Budaun District Women's Hospital OPD
Budaun के जिला महिला अस्पताल की ओपीडी से डॉक्टर गायब

अस्पताल में यहां रोज मरीजों की लंबी लंबी कतार लगती हैं, लेकिन मरीजों की सुनने वाला नहीं है। 

खास बात तो यह है पैथोलॉजी लैब सुबह 8:00 बजे खुल जाती है। पैथोलॉजिस्ट डॉक्टर जयादीप ग्रोवर ने बताया कि हमारी लैब आठ बजे खुल जाती है। 

जब डॉक्टर मरीज को देखकर जांच के लिए लिखेंगे तभी तो हम जांच करेंगे, हमें अपनी लैब खोलने का समय मालूम है और  डॉक्टरों के बारे में हम कुछ नहीं कह सकते।

हमारी टीम ने डॉ प्रियंका यादव से ओपीडी में बैठने का समय पूछा तो वह चुप हो गई कोई संतुष्ट जवाब नहीं दिया। 

जिला महिला अस्पताल की सीएमएस पुष्पा पन्त त्रिपाठी ने अपने बयान में कहा की कई बार हम डॉक्टरों को समय पर बैठने का मौखिक व लिखित आदेश भी जारी कर चुके हैं लेकिन ज़्यादातर अपनी आदत से मजबूर हैं।

Doctors missing from Budaun District Women's Hospital OPD
Budaun के जिला महिला अस्पताल की ओपीडी से डॉक्टर गायब

बदलते मौसम की बजह से लगातार मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है जिसकी वजह से ओपीडी में मरीजों की लंबी लाइन लग रही है।

ऐसे में रोगियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जिला महिला अस्पताल में मरीजों को इलाज के नाम पर सिर्फ इंतजार मिल रहा है। 

सोमवार को महिला अस्पताल की ओपीडी में सुबह आठ बजे से ही लाइन लगाए मरीजाें को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। मरीजों का कहना है कि सुबह आठ बजे से ही पर्चा बनवाकर लाइन में लग रहे हैं, लेकिन ओपीडी में 10:00 बजे तक कोई डॉक्टर नहीं आया है। 

10 बजकर 15 मिनट एक डॉक्टर आई उन्होंने मरीजों को देखा। बाकी सभी डॉक्टर गायब रहे। 

बदायूं से कुलदीप सक्सेना की रिर्पोट