Newsnowदेशनेताजी के समारोह में पीएम की मौजूदगी में Mamata Banerjee ने कहा...

नेताजी के समारोह में पीएम की मौजूदगी में Mamata Banerjee ने कहा बुलाने के बाद अपमान मत कीजिए।

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने जब यह प्रतिक्रिया दी तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ भी वहां मौजूद थे.

Kolkata: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) शनिवार को कोलकाता के विक्टोरियल मेमोरियल में नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Neta JI Subhash Chandra Bose) की 125वीं जयंती पर उनके सम्मान में आयोजित समारोह में बिफर पड़ीं. ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का संबोधन शुरू होते ही किसी ने जय श्री राम का नारा लगाया तो उसके बाद मुख्यमंत्री ने तीखी प्रतिक्रिया दी. ममता के साथ जब यह चौंकाने वाला व्यवहार हुआ तब पीएम नरेंद्र मोदी भी मंच पर मौजूद थे.  दोनों नेता बेहद कम ही मंच साझा करते हैं.

Mamata Banerjee- प्रधानमंत्री लोगों को गुमराह कर रहे, मोदी सरकार ने पश्चिम बंगाल के लिए कुछ नहीं किया

ममता (Mamata Banerjee) ने कहा, मुझे यहां बुलाने के बाद मेरा अपमान मत कीजिए, यह कोई राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है. अगर आप किसी को सरकारी कार्यक्रम में न्योता देते हैं तो उसकी बेइज्जती नहीं करनी चाहिए. नाराज और व्य़थित नजर आ रहीं ममता (Mamata Banerjee) ने अपना भाषण बीच में ही खत्म करते हुए यह तीखी प्रतिक्रिया दी.

TMC को झटकाः बीजेपी में शामिल हुए सुवेंदु अधिकारी, अमित शाह ने किया स्वागत

मुख्यमंत्री (Mamata Banerjee) ने कहा, “मुझे लगता है कि सरकार के प्रोग्राम का कोई डिग्निटी होना चाहिए. ये गर्वमेंट का प्रोग्राम है कोई पॉलिटिकल पार्टी का प्रोग्राम नहीं है. ये सभी पॉलिटिकल पार्टी और पब्लिक का प्रोग्राम है. मैं आभारी हूं प्रधानमंत्री जी का, कल्चरल मिनिस्ट्री का कि कोलकाता में यह प्रोग्राम बनाया. लेकिन किसी को निमंत्रित करके उसको बेज्जत करना ये आपको शोभा नहीं देता. मैं कुछ नहीं कहने जा रही हूं. जय हिंद, जय बांग्ला.”

Bengal: BJP के रोड शो में लगा था ‘गोली मारो’ का नारा, तीन कार्यकर्ता गिरफ्तार

समारोह में साफ देखा गया कि जब ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) बोलने के लिए उठ खड़ी हुईं तो भीड़ ने नारेबाजी की, आयोजक उन्हें बार-बार शांत रहने के लिए कहते रहे. जब ममता के बोलने की बारी आई तो नारेबाजी करने वाली भीड़ पर उनका गुस्सा फूटा. उन्होंने लोगों को सरकारी कार्यक्रम की मर्यादा रखने की नसीहत दी. ममता (Mamata Banerjee) ने इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) को नेताजी (Neta JI Subhash Chandra Bose) के कार्यक्रम में शामिल होने पर धन्यवाद दिया और मंच से चली गईं. हालांकि इस पूरे घटनाक्रम से प्रभावित हुए बिना पीएम मोदी (PM Modi) ने अपने संबोधन की शुरुआत में मुख्यमंत्री को बहन ममता कहकर बुलाया.