Newsnowप्रमुख ख़बरेंदिल्ली पुलिस ने किसानों की रिपब्लिक डे Tractor Rally को दी हरी...

दिल्ली पुलिस ने किसानों की रिपब्लिक डे Tractor Rally को दी हरी झंडी

किसान नेताओं की पुलिस के साथ हुई बैठक के बाद किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) करीब 100 किलोमीटर चलेगी.

New Delhi: किसानों (Farmers) की आज दिल्ली और एनसीआर की पुलिस (Police) के साथ मीटिंग हुई. इस बैठक में पुलिस ने गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर किसानों के ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) निकालने की बात मान ली. किसान नेता दर्शन पाल (Darshan Pal) ने कहा कि अब हम दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालेंगे. पुलिस अब हमें नहीं रोकेगी. उन्होंने कहा कि हम अलग-अलग पांच रूटों से अपनी परेड निकालेंगे. परेड शांतिपूर्वक होगी.

किसान बोले, हर हाल में दिल्ली की आउटर रिंग रोड पर Tractor Rally निकालेंगे

किसान नेताओं की पुलिस के साथ हुई बैठक के बाद किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि ट्रैक्टर रैली करीब 100 किलोमीटर चलेगी. परेड में जितना समय लगेगा, वो हमें दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि यह परेड ऐतिहासक होगी जिसे दुनिया देखेगी. कल परेड के पूरे रूट और समय के बारे में जानकारी देंगे.

टिकैत ने दी सरकार को धमकी, Tractor Rally निकालेंगे, किसमें हिम्मत है जो हमें रोके

दिल्ली में 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली निकालने पर किसान अड़े हुए थे लेकिन दिल्ली पुलिस उन्हें रैली निकालने से रोकने की कोशिश कर रही थी. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में भी किसान आंदोलन (Farmers Protest) के मामले में सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा था कि इस पर फैसला पुलिस को लेना होगा.

Supreme Court: प्रस्तावित Tractor Rally पुलिस का मामला, केंद्र ने वापस ली याचिका

दिल्ली एनसीआर (Delhi- NCR) में निकलने वाली ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में शामिल होने के लिए कई राज्यों के किसान दिल्ली आ रहे हैं. भारतीय किसान यूनियन (BKU) के नेता जोगेंद्र तालु ने शनिवार को दावा किया कि 24 जनवरी को भिवानी जिले से पांच हजार ट्रैक्टर दिल्ली में प्रस्तावित किसानों की ट्रैक्टर रैली में शामिल होने के लिए रवाना होंगे. 

26 जनवरी की Tractor Rally के लिए पंजाब में रिहर्सल में जुटे हजारों किसान

किसान नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि करीब दो महीने से अन्नदाता ठंड के मौसम में अपने हकों के लिए बॉर्डर पर धरने पर बैठे हैं लेकिन सरकार अपना तानाशाही रवैया छोड़ने को तैयार नहीं है. तालु ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार सरकारी व सावर्जनिक क्षेत्र को बर्बाद करने के बाद अब खेती व खाद्य सुरक्षा को उजाडऩे के लिए तीन कृषि कानून (Farm Laws) को लेकर आई है.

Farmers Protest With Tractor March: बातचीत से पहले किसानों का शक्ति प्रदर्शन

भारतीय किसान यूनियन के नेता ने कहा कि हजारों किसान करीब दो महीने से दिल्ली के चारों ओर डेरा डाले बैठे हैं, लेकिन सरकार उनके साथ दुश्मनों जैसा व्यवहार कर रही है. उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा देश-विदेश के चंद उद्योगपतियों के मुनाफों के लिए ऐसा किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि कि ये तीनों कृषि कानून (Farm Laws) किसान विरोधी हैं.